Ram Mandir Ayodhya: NCP नेता ने भगवान राम को कहा मांसहारी तो भड़की बीजेपी
News

Ram Mandir Ayodhya: NCP नेता ने भगवान राम को कहा मांसहारी तो भड़की बीजेपी

कर्नाटक के बाद महाराष्ट्र में भगवान राम के नाम पर राजनीतिक विवाद खड़ा हो गया है शरद पवार वाली एनसीपी के नेता डॉक्टर जितेंद्र द्वारा भगवान राम को मांसाहारी बताए जाने पर गुस्सा भड़क गया है भाजपा नेता राम कदम ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है वहीं राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र दास ने भी बयान की निंदा की है कदम ने अपने बयान में कहा है।

Ram Mandir Ayodhya: NCP नेता ने भगवान राम को कहा मांसहारी तो भड़की बीजेपी

घमंडी गठबंधन की मानसिकता साफ है कि राम भक्त की भावनाओं को आहत पहुंचाई जाए वे वोट जुटाने के लिए हिंदू धर्म का मजाक नहीं उड़ा सकते राम मंदिर का निर्माण घमंडी गठबंधन को रास नहीं आ रहा है बार-बार हिंदू समाज का मजाक बनाओ और एक सांप्रदायिक संघ पर दिए गए बयान पर भाजपा नेता ने कहा कि वे जानते क्या हैं आरएसएस के बारे में उन्होंने आगे पूछा कि क्या वे कभी संघ की किसी शाखा में गए हैं।

संघ की परिभाषा जानते संघ के जो स्वयंसेवक हैं वह मां भारती के लिए जीते हैं उन्हें क्या पता है संघ के बारे में तो आइए आप भी सुनिए कि उन्होंने अपने इस बयान में क्या कुछ कहा जानिए पुलिस को हमने शिकायत दी पुलिस के वरिष्ठ आला कमान से बात की उन्होंने हमें आश्वस्त किया है कि वीडियो फुटेज की जांच करके उनके ऊपर कड़ी सी कड़ी धारा लगाई जाएगी।

धारा के अनुसार जो गिरफ्तारी होती है गिरफ्तारी होगी उन्हे पूरी तरह से कठोर दंड मिलेगा और य यह देखिए यह प्रभु रामचंद्र जी ने दिए हुए आदर्श राम राज्य पर चलने वाली वर्तमान सरकार है य शिंदे जी और फड़न जी के नेतृत्व में चलने वाली सरकार है अजीत दादा भी हमारे साथ तो य कोई उद्धव ठाकरे जैसी सोई हुई सरकार नहीं है इस महाराष्ट्र की भूमि पर हम देवी देवताओं का अपमान ना किसी को करने देंगे।

और यदि किसी ने किया तो ना उसको छोड़ेंगे आपको बता दें कि जितेंद्र के बयान पर श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास का भी बयान सामने आया है उन्होंने कहा एनसीपी नेता जितेंद्र जो बोल रहे हैं वह पूरी तरह से गलत है हमारे शास्त्रों में कहीं नहीं लिखा है कि भगवान राम ने अपने वनवास के दौरान मांसाहारी भोजन किया था इसमें लिखा है कि वह फल खाते थे।

ऐसे झूठे को हमारे भगवान राम का अपमान करने का कोई अधिकार नहीं है हमारे भग हमेशा शाकाहारी ही थे वह हमारे भगवान राम का अपमान करने के लिए अपमानजनक शब्द बोल रहे हैं आपको बता दें कि महाराष्ट्र के शीडी में बुधवार को एक कार्यक्रम में जितेंद्र ने कहा था कि भगवान राम शाकाहारी नहीं थे बल्कि वह मांसाहारी थे उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति 14 साल से जंगल में रहेगा।

 

इसे भी पढे: 6 जनवरी को बीजेपी: के राष्ट्रीय महामंत्रियों की बैठक राम मंदिर-2024 चुनाव को लेकर चर्चा संभव

 

वह शाकाहारी भोजन खोजने कहां जाएगा उन्होंने जनता से सवाल करते हुए कहा कि क्या यह बात सही नहीं है उन्होंने आगे कहा था कोई कुछ भी कहे सच्चाई यह है कि हम हमें आजादी गांधी और नेहरू की वजह से ही मिली यह तथ्य कि इतने बड़े स्वतंत्रता आंदोलन के नेता गांधी जी ओबीसी थे आरएसएस कोई स्वीकार नहीं है।

गांधी जी की हत्या के पीछे का असली कारण जातिवाद था आपको बता दें कि भगवान राम की नगरी अयोध्या में 22 जनवरी को श्री राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होगी इस अवसर को खास बनाने के लिए व्यापक तैयारियां भी की जा रही हैं मंदिर के उद्घाटन के साथ ही अयोध्या में बना राम मंदिर।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हाय दोस्तों मेरा नाम हेमंत कुमार है, मैं एक ब्लॉग वेबसाईट चलता हूँ जिसमें हम आप लोगों को न्यूज के रिलेटेड इस ब्लॉग पर पोस्ट डालते हैं जैसे बिजनेस, इंटरटैनमेंट, फाइनैन्स, ट्रेंडीड, स्टोरी, जॉब और न्यूज इन सभी न्यूज के रिलिटेड हम इस वेबसाईट पर पोस्ट डालते है।