नीतीश कुमार जदयू अध्यक्ष-लोकसभा चुनाव से पहले जदयू से बदल गए
News

नीतीश कुमार जदयू अध्यक्ष-लोकसभा चुनाव से पहले जदयू से बदल गए

ब्रेक के बाद एक बार फिर आपका स्वागत है रुख करेंगे कुछ और खबरों का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद बीजेपी कई दलीलें पेश कर रही है कुछ नेता लालू यादव और ललन सिंह की करीबी होने का दावा कर रहे हैं तो सुशील मोदी का दावा है कि ललन सिंह ने जेडीयू को तोड़ने की तैयारी की है हालांकि जेडीयू से लेकर महागठबंधन के नेता बीजेपी के आ को ना सिर्फ सिरे से खारिज कर रहे हैं बल्कि करारा पलटवार भी कर रहे हैं लोकसभा चुनाव से पहले जेडीयू की तस्वीर बदल गई है अब जेडीयू की कमान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के हाथों में है।

नीतीश कुमार जदयू अध्यक्ष-लोकसभा चुनाव से पहले जदयू से बदल गए

हालांकि नीतीश कुमार के पुराने साथी रहे सुशील मोदी इस बदलाव की वजह कुछ और ही बता रहे हैं वहीं जेडी का सुशील मोदी की बातों का कोई मतलब नहीं है ललन सिंह का य खेल की शुरुआत खेल का प पटाक्षेप नहीं है बहुत कुछ होना बाकी है ड़ इंतजार कीजिए नितीश कुमार गल में है उनको जो इडी गठबंधन है उनको संयोजक बना देगा या उनको जो है वो प्रधानमंत्री पद उम्मीदवार बना देगा ललन सिंह 12 विधायकों को तोड़ लिए थे इसलिए नीतीश कुमार ने उन्हें अध्यक्ष पद से हटा दिया उन्होंने कहा कि मैंने पहले ही भविष्यवाणी की थी।

 

ललन सिंह इस्तीफा देंगे क्योंकि लालू के साथ मिलकर तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाने की तैयारी हो रही थी सुशील कुमार मोदी जी अपनी पार्टी अपनी राजनीति से ज्यादा हमारी पार्टी पर ध्यान रखते हैं हमारी पार्टी लोकतांत्रिक मूल्यों पर चलती है पूरी पार्टी मिलकर कोई फैसला करती है अब सुशील कुमार मोदी जी की राजनीतिक प्रासंगिकता तो भाजपा के अंदर बची नहीं है हाशिए पर जा चुके हैं तो जब तक हमारी पार्टी हमारे नेताओं के खिलाफ नहीं बोलेंगे तब तक उनकी राजनीतिक दुकान कैसे चलेगी वहीं आरजेडी कांग्रेस भी सुशील मोदी पर चुटकी ले रही है कह रही है।

 

सुशील मोदी भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के काफी करीबी हो गए थे लिहाजा पार्टी ने साइडलाइन कर दिया अब सुर्खियों में बने रहने के लिए इस तरह का बयान दे रहे हैं सुशील मोदी क्या बोलते हैं महत्त्वपूर्ण विषय नहीं है जदयू के राष्ट्रीय धप ललन सिंह जी स्वयम ही पेशकश की इस्तीफे की उस पर अलग से कोई क्यास लगाने की जरूरत नहीं है सुशील मोदी अपनी पार्टी की चिंता क्यों नहीं करते उनकी पार्टी बिहार में सत्ता से बाहर हो गई अब केंद्र की सत्ता से बाहर होने वाली है जदयू के अंदर क्या हो रहा है।

इसे भी पढे: अयोध्या नगरी में पीएम मोदी का अद्भुत स्वागत रामनगरी में मोदी-मोदी की गूंज

इसे भी पढे: POCO X6 Pro 5G: भारत में 2023-2024 में लॉन्च हुआ?, जल्द ही भारत में लॉन्च हो होगा

क्या होने वाला है भविष्यवक्ता के रूप में अनाप सनाप बयान लगातार दिए जा रहे हैं मैं समझता हूं उन्हें अपनी चिंता करनी चाहिए बीजेपी के अंदर खुद आइसोलेटेड हो गए वो दूसरी ओर नीतीश कुमार के कमान संभालने के बाद जेडीयू कार्यकर्ताओं के जोश में डबल इजाफा हुआ है यह तस्वीरें गवाह हैं।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हाय दोस्तों मेरा नाम हेमंत कुमार है, मैं एक ब्लॉग वेबसाईट चलता हूँ जिसमें हम आप लोगों को न्यूज के रिलेटेड इस ब्लॉग पर पोस्ट डालते हैं जैसे बिजनेस, इंटरटैनमेंट, फाइनैन्स, ट्रेंडीड, स्टोरी, जॉब और न्यूज इन सभी न्यूज के रिलिटेड हम इस वेबसाईट पर पोस्ट डालते है।