हिट एंड रन कानून: काम पर घटिया कर्मचारी लेकिन केंद्र सरकार के फैसले पर कह दी ये बड़ी बात
News

हिट एंड रन कानून: काम पर घटिया कर्मचारी लेकिन केंद्र सरकार के फैसले पर कह दी ये बड़ी बात

नए हिट एंड रन कानून को लेकर पिछले दो दिनों से लखनऊ में चल रही रोडवेज कर्मचारियों और ट्रक चालकों की हड़ताल आखिरकार बुधवार को खत्म हुई बसों का संचालन शुरू हुआ यात्री अपने घर जा सके सरकार के फैसले पर कर्मचारियों ने क्या कहा जानिए और सरकार ने जो यह कानून लागू करने जा रही थी इससे बहुत बड़ा नुकसान था हमसे यह कहा जा रहा ता कि आप अगर दुर्घटना होती है तो दुर्घटना स्थल पर ही जो इंजर्ड है उसके लिए उसको पुलिस को सूचना दें।

 

हिट एंड रन कानून: काम पर घटिया कर्मचारी लेकिन केंद्र सरकार के फैसले पर कह दी ये बड़ी बात

जनता हम सूचना देने में कोई समस्या नहीं हम भी मानव है मनुष्य हैं लेकिन समस्या यह थी कि हम जब तक उसको उठाएंगे इलाज कराएंगे पुलिस के हवाले करेंगे पुलिस आएगी तब तक लोग हमें जमीन के हवाले कर देंगे जनता यह अमेरिका नहीं है कि दुर्घटना होने पर लोग उसकी साफ मदद करते हैं या दुर्घटना होने पर पहले ड्राइवर को तलाश करते हैं कि ड्राइवर कहां है उसको पहले मार लो उसके बाद सब कानून हाथ में ले लेते तो इसके लिए कोई कानून नहीं बनाया था।

लेकिन जिसको लेकर सरकार ने जो गलत फैसला किया था पूरे देश के सारे ड्राइवर्स हड़ताल पर चले गए थे और सरकार को मजबूर होना पड़ा हजारों हजारों करोड़ रुपए का नुकसान केंद्र सरकार ने करा दिया है पूरे प्रदेशों में आपने कल लखनऊ की स्थिति देखी होगी किस तरीके से पेट्रोल और डीजल की मारामारी मची मैं स्वयं आपको बता दूं कल बाजार में मैं सब्जी लेने गया 30 किलो आलू बताया और मैं खड़ा रहा मेरे सामने उसने 40 किलो कर दिया।

जब कल ये स्थिति दी तो आज हालात क्या होती अगर हड़ताल होती पहली बार इस जिद्दी सरकार ने 24 घंटे के अंदर चालकों ने इन मजदूरों ने अपनी ताकत को दिखा दिया है कि मजदूरों में कितनी शक्ति होती है इतनी ताकत दिखा दी कि पहली बार किसान आंदोलन एक साल से ज्यादा चला था मैम और सरकार नहीं मानी थी बहुत मुश्किल में गवर्नमेंट मानी थी।

लेकिन 24 घंटे के अंदर ड्राइवरों ने अपनी ताकत को दिखा दिया कि सरकार को झुकना पड़ा अमित शाह जी से मेरा निवेदन है केंद्र सरकार जी से केंद्र सरकार से सभी से कि ऐसे किसी कानून को ना लागू करें जो ना देश हित में हो ना उसकी जनता के हित में हो ना किसी कर्मचारी के हित में हो जी तो आज से बसों का संचालन शुरू हो गया है और आज तो सुबह से ही हमारे सारे अधिकारी जैसे हमारे इंचार्ज हैं।

आमिर जावेद साहब है माखन लाल जी है सारे लोग आ गए हैं सुबह से लगे हुए हैं 4:00 बजे से हम लगातार पूरा 100% संचालन हो रहा है और प्रदेश की जनता की सेवा के लिए उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम हमेशा जो है तैयार रहेगा मेरा एक सवाल आपसे और है क्योंकि इस कानून के अंदर तीसरा जो सबसे बड़ा पॉइंट है वो पुलिस को बहुत ज्यादा पावर दे दी गई थी।

 

इसे भी पढे: 6 जनवरी को बीजेपी: के राष्ट्रीय महामंत्रियों की बैठक राम मंदिर-2024 चुनाव को लेकर चर्चा संभव

 

कि वो बिना किसी वारंट के ऑन द स्पॉट किसी भी ड्राइवर को गिरफ्तार कर सकती है तो इस पावर के बारे में क्या कहना चाहेंगे जो सीधा पावर पुलिस के हाथ में दी गई है नहीं मैम पुलिस का तो सारी जयजय थी पुलिस की ही इस कानून में अब दुर्घटना होगी पुलिस के पास एफआईआर दर्ज होगी हम फरार हो जाएंगे पुलिस के पास जाएंगे पुलिस कहेगी बताइए क्या करोगे तुम नहीं तो हिट एंड टरन तुम्हारे ऊपर लात देंगे जब अगर हम सेवा पानी कर ले जाएंगे।

पुलिस की तब तो वो कहेगी चलिए 104 लगा रहे हैं 104a लगा रहे हैं नहीं तो कहे कि 106 लगा रहे हैं आपके ऊपर जो 106 ए बनाया इन्होने हिट एंड रंड में 10 साल की स सा साल वो कह दे कि हम लगा देंगे क्योंकि सारा खेल इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर के पास हाथ में चला जाएगा जो पुलिस का आईओ होगा सारा गेम उसी के पास होगा जो व चार सट में लिख देगा कि ये दोषी है।

तो हम दोषी हो गए नहीं तो हम पर 104 लगेगा और नहीं 104 की जगह 106 लगा देगा तो हम करेंगे क्या अब तो सब कुछ उसी के हाथ में चला जाएगा ना आपके साथ यही करेगा हमारे साथ कल बाइक वाले के साथ यही कर देगा बाइक से अगर कोई बच्चा टकरा जाएगा है आपके ऊपर आपने जानबूझ के मार दिया इसको जी तो इसको लेकर बदलाव की बहुत आवश्यकता है सरकार से मेरा अनुरोध है।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हाय दोस्तों मेरा नाम हेमंत कुमार है, मैं एक ब्लॉग वेबसाईट चलता हूँ जिसमें हम आप लोगों को न्यूज के रिलेटेड इस ब्लॉग पर पोस्ट डालते हैं जैसे बिजनेस, इंटरटैनमेंट, फाइनैन्स, ट्रेंडीड, स्टोरी, जॉब और न्यूज इन सभी न्यूज के रिलिटेड हम इस वेबसाईट पर पोस्ट डालते है।